गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड: दोनों पैर से अपाहिज एथलीट ने मात्र 4.78 सेकंड में लगाई 20 मीटर की दौड

गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड: दोनों पैर से अपाहिज एथलीट ने मात्र 4.78 सेकंड में लगाई 20 मीटर की दौड

by

नई दिल्ली: किसी भी व्यक्ति का दोनों पैर अगर ना रहे और उसे दौड़ लगाने के लिए कहा जाए तो शायद हर कोई यही कहेगा कि यह नामुमकिन है। लेकिन इसे मुमकिन बना डाला है एक दिव्यांग अमेरिकी एथलीट ने। अपने पैरों को अपनी कमजोरी ना बनाते हुए दिव्यांग अमेरिकी एथलिट ने अपने हाथों का यूज करके सबसे तेज 20 मीटर चलने वाला विश्व रिकॉर्ड तोड़ दिया है।

23 वर्षीय ज़ियोन क्लार्क ने 4.78 सेकंड में 20 मीटर चलकर एक नया गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया है। इससे पहले क्लार्क ने न सिर्फ मोटिवेशनल स्पीकर के रूप में काम किया, बल्कि वह एक लेखक के तौर पर भी लोगों को प्रेरित कर चुके हैं।


अब इस नई उपलब्धि के साथ उन्होंने हॉल ऑफ फेम में प्रवेश किया है। यूएस नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन के अनुसार, बिना पैरों के जन्मे क्लार्क कॉडल रिग्रेशन सिंड्रोम से पीड़ित हैं। छोटी उम्र से ही, उनकी विकलांगता ने उन्हें कभी पीछे नहीं छोड़ा। अपने हाई स्कूल के दिनों में जियोन क्लार्क एक पहलवान भी थे।

क्लार्क अब ओहियो के मैसिलन में उसी हाई स्कूल जिम में लौटे और उन्होंने शानदार उपलब्धि हासिल की। जीडब्ल्यूआर की आधिकारिक वेबसाइट ने कहा, 'क्लार्क ने 4.78 सेकंड के समय में हाथों द्वारा तेज गति से चलने का रिकॉर्ड को तोड़ दिया। उन्होंने फरवरी 2021 में रिकॉर्ड तोड़ने का प्रयास किया था। उन्हें इस सप्ताह ग्लोबल ऑर्गनाइजेशन द्वारा आधिकारिक रूप से मान्यता दी गई।'

एथलीट क्लार्क ने इंस्टाग्राम पर एक वीडियो साझा करते हुए लिखा, 'गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड होल्डर बनना कितना अच्छा अहसास है। जीवन में मेरा लक्ष्य बच्चों को वह बनने के लिए प्रेरित करना है जो वे जीवन में बनना चाहते हैं, किसी को यह न बताएं कि आप क्या नहीं कर सकते।' उन्होंने आगे कहा, 'मैं विकलांग बच्चों या जो भी विकलांग हैं उन्हें संदेश देना चाहूंगा कि अगर आपके पास दृढ़ संकल्प है, तो आप किसी भी लक्ष्य को प्राप्त कर सकते हैं।'