Video: ब्रेन ट्यूमर का डॉक्टर्स करते रहे ऑपरेशन, मरीज जपता रहा गायत्री मंत्र !

ऑपरेशन सफल भी रहा लेकिन इस दौरान जो बात हैरान करने वाली सामने आई है वह यह है कि मरीजो को बेहोश किए गए बिना यह ऑपरेशन किया गया है। इतना ही नहीं ऑपरेशन लगभग 4 घंटे चला और इस दौरान मरीज गायत्री मंत्र का जाप करता रहा।

by

जयपुर: साइंस और टेक्नोलॉजी बेशक बहुत आगे बढ़ चुका है लेकिन अभी भी कुदरत की कहानी सामने आती रहती है। ताजा मामले में भी कुछ ऐसा ही हुआ है। दरअसल, एक शख्स के ब्रेन ट्यूमर का ऑपरेशन डॉक्टरों द्वारा किया गया है। ऑपरेशन सफल भी रहा लेकिन इस दौरान जो बात हैरान करने वाली सामने आई है वह यह है कि मरीजो को बेहोश किए गए बिना यह ऑपरेशन किया गया है। इतना ही नहीं ऑपरेशन लगभग 4 घंटे चला और इस दौरान मरीज गायत्री मंत्र का जाप करता रहा।


राजस्थान की राजधानी जयपुर में एक ऐसा मामला सामना आया है, जहां सर्जरी के दौरान डॉक्टर्स ब्रेन ट्यूमर निकालते रहे और मरीज गायत्री मंत्र का जाप करता रहा। दरअसल, सीनियर न्यूरोसर्जन डॉ. केके बंसल के नेतृत्व में जयपुर के नारायण अस्पताल में न्यूरो-सर्जरी टीम ने 57 वर्षीय सेवानिवृत्त सेना हवलदार रिधमल राम के ब्रेन ट्यूमर को सफलतापूर्वक हटा दिया। इस मरीज को बार-बार मिर्गी के दौरे आते थे, जिसके कारण अस्थाई रूप से उनकी आवाज भी कुछ देर के लिए चली जाती थी। 

मरीज का ब्रेन ट्यूमर निकालने के लिए चार घंटे तक सर्जरी की गई। जयपुर के नारायण अस्पताल में जोनल क्लिनिकल डायरेक्टर डॉ माला ऐरुन ने कहा कि चार घंटे की सर्जरी में एक हाई-एंड ऑपरेटिंग माइक्रोस्कोप का उपयोग शामिल था, जो मस्तिष्क क्षेत्र को बढ़ा सकता है। इस तरह की सर्जरी देश भर में बहुत कम केंद्रों पर की जा सकती है और इसके लिए उच्च स्तरीय न्यूरो-सर्जिकल विशेषज्ञता की आवश्यकता होती है।

दरअसल, चुरू के रहने वाले 57 वर्षीय रिधमल राम को बार-बार मिर्गी के दौरे आते थे और अस्थायी रूप से बोलने में भी परेशानी हो रही थी। जांच कराने पर डायग्नोस्टिक रिपोर्ट्स ने ब्रेन के स्पीच एरिया में लो ग्रेड ब्रेन ट्यूमर डायग्नोसिस की पुष्टि की। ब्रेन के स्पीच एरिया में ब्रेन ट्यूमर ऐसी जटिल जगह पर था कि मर्जरी से मरीज की बोलने की क्षमता जा सकती थी और लकवा होने का भी खतरा था। मगर न्यूरोसर्जन डॉ केके बंसल के नेतृत्व में न्यूरो-सर्जरी टीम ने मरीज के ब्रेन ट्यूमर की सफल सर्जरी कर दी। 

चौंकाने वाली बात यह है कि न्यूरो-सर्जरी टीम ने ब्रेन ट्यूमर को मरीज के होश में रहते हुए सफलतापूर्वक निकाला। जब सर्जरी की जा रही थी तब रिधमल राम पूरी तरह से होश में थे और इस दौरान वह गायत्री मंत्र का जाप करते रहे।

वीडियो देखने के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें