यूपी, एमपी और दिल्ली में डेंगू का कहर, सावधान रहने की जरूरत

देश के कई राज्‍य इन दिनों डेंगू के बढ़ते प्रकोप से जूझ रहे हैं। उत्‍तर प्रदेश के कई जिलों में हालात अच्‍छे नहीं हैं। मध्य प्रदेश में भी डेंगू का कहर देखने को मिल रहा है और राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली तो डेंगू का गढ़ ही माना जाता है।

नई दिल्ली: देश के कई राज्‍य इन दिनों डेंगू के बढ़ते प्रकोप से जूझ रहे हैं। उत्‍तर प्रदेश के कई जिलों में हालात अच्‍छे नहीं हैं। मध्य प्रदेश  में भी डेंगू का कहर देखने को मिल रहा है और राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली तो डेंगू का गढ़ ही माना जाता है।


एमपी का हाल

मध्‍य प्रदेश में भी मामलों में तेजी से बढ़ोतरी देखी जा रही है। अकेले ग्‍वालियर जिले में डेंगू मामलों की संख्या अब तक 500 पहुंच गई है। सितंबर-अक्टूबर में मामले ज़्यादा आए हैं। राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली में इस साल नौ अक्टूबर तक डेंगू के कम से कम 480 मामले सामने आए हैं। इनमें से करीब 140 मरीज अक्टूबर में ही मिले हैं।

दिल्ली का हाल

दिल्‍ली में डेंगू के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी देखी गई है। दो अक्टूबर तक कुल मामलों की संख्या 341 थी लेकिन बीते एक हफ्ते में ही करीब 140 मामले सामने आए हैं। निकाय अधिकारियों की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक इस साल सितंबर महीने में कुल 217 मामले सामने आए जो पिछले तीन वर्षों के दौरान इस महीने के आंकड़ों से ज्यादा हैं।

यूपी का हाल

ब्रज में पिछले 24 घंटे में बुखार से 25 और लोगों की मृत्यु हो गई है। कासगंज में सात, एटा में चार, फिरोजाबाद व हाथरस में छह-छह और आगरा में दो लोगों ने दम तोड़ दिया। इनमें नौ बच्चे शामिल हैं। फिरोजाबाद में अलग-अलग स्थानों पर छह बच्चों की मृत्यु हो गई। 

कासगंज में सोमवार को मासूम सहित सात लोगों की बुखार से मौत हुई है। अलीगढ़ में सोमवार को 36 नए मरीज मिले। इसके साथ ही अलीगढ़ जिले में डेंगू रोगियों की संख्या करीब 400 पहुंच गई है। हाथरस में छह और एटा में बुखार से चार लोगों की मौत हो गई।


न्यूज9इंडिया डेस्क

न्यूज9इंडिया डेस्क