भारतीय मूल के अफगानी व्यवसायी को तालिबानियों ने हथियारों के दम पर किया अगवा !

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में अफगान मूल के एक भारतीय मूल के अफगानी व्यवसायी को बंदूक की नोक पर उसकी दुकान के पास से अगवा कर लिया गया है।

काबुल: अफगानिस्तान की तालिबानी सरकार बेशक दुनिया के सामने लंबे-चौड़े वादे कर रहा है कि वह शांति चाहता है लेकिन हकीकत कुछ और ही है। तालिबानी लोगों को न सिर्फ परेशान कर रहे हैं बल्कि उनकी जिंदगी बर्बाद करने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे। 

ताजा मामले में अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में भारतीय मूल के एक अफगानी व्यवसायी को बंदूक की नोक पर उसकी दुकान के पास से अगवा कर लिया गया है। माना जा रहा है कि तालिबानियों ने ही भारतीय नागरिक को किडनैप किया है। हालांकि, इस घटना को लेकर अब भारत सरकार से संपर्क साधा गया है। 

इंडियन वर्ल्ड फोरम के अध्यक्ष पुनीत सिंह चंडोक ने मंगलवार को बताया कि उन्होंने इस मामले में हस्तक्षेप करने को लेकर भारत सरकार के विदेश मंत्रालय से संपर्क किया है। उन्होंने कहा कि उन्हें अफगान हिंदू-सिख समुदाय द्वारा जानकारी दी गई है कि अफगान मूल के एक भारतीय नागरिक बंसरी लाल अरेन्दे (50) को काबुल स्थित उसकी दुकान के पास से सोमवार को सुबह लगभग आठ बजे अगवा कर लिया गया। 

चंडोक ने बताया कि बंसरी लाल फामार्स्युटिकल उत्पादों के व्यवसायी हैं और इस घटना के समय वह अपने कर्मचारियों के साथ अपनी दुकान पर सामान्य दिनचर्या में लिप्त थे। उन्होंने बताया कि बंसरी लाल को उसके कर्मचारियों के साथ अगवा किया गया था, लेकिन उसके कर्मचारी किसी तरह भागने में सफल रहे, हालांकि अपहरणकतार्ओं ने उन्हें बेरहमी से पीटा है। बंसरी लाल का परिवार दिल्ली में रहता है। 

चंडोक ने कहा कि स्थानीय समुदाय संबंधित अधिकारियों के साथ सम्पर्क में है और स्थानीय जांच एजेंसियों ने इस सिलसिले में मामला दर्ज कर लिया है। उन्होंने कहा कि उनके दोस्तों के अनुसार, बंसरी लाल का पता लगाने के लिए दिन में तलाशी ली गई। चंडोक ने कहा कि उन्होंने मामले के संबंध में भारत सरकार के विदेश मंत्रालय को सूचित कर दिया गया है और इस संबंध में तत्काल हस्तक्षेप और सहायता का अनुरोध किया गया है।


न्यूज9इंडिया डेस्क

न्यूज9इंडिया डेस्क