अफगानिस्तान में तालिबानी हुकुमत से बुलंदी पर ISI के हौसले, 100 से ज्यादा बार कश्मीर में घुसपैठ की आतंकियों ने की कोशिश

अफगानिस्तान में तालिबान की सरकार बनने के बाद अब तक 105 बार आतंकियों ने कश्मीर के रास्ते भारत में घुसपैठ करने की कोशिश की जिसमें वह 6 बार सफल हुए हैं। आतंकियों को घुसपैठ कराने आईएसआई और पाकिस्तानी आर्मी भरपूर सहयोग दे रही है।

नई दिल्ली: अफगानिस्तान में तालिबान की सरकार बनने से पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान के हौसले बुलंद हो गए हैं। खासकर उसकी खुफिया एजेंसी आईएसआई की। 

इस का अन्दाजा आप इस बात से लगा सकते  हैं कि अफगानिस्तान में तालिबान की सरकार बनने के बाद अब तक 105 बार आतंकियों ने कश्मीर के रास्ते भारत में घुसपैठ करने की कोशिश की जिसमें वह 6 बार सफल हुए हैं। आतंकियों को घुसपैठ कराने आईएसआई और पाकिस्तानी आर्मी भरपूर सहयोग दे रही है।

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक आईएसआई ने पाकिस्तानी आर्मी की मदद से पाक अधिकृत कश्मीर (POK) और इंटरनेशनल बॉर्डर से आतंकी घुसपैठ के लिए जून से से लेकर अगस्त तक 105 बार कोशिश की।

भारतीय सुरक्षाबलों ने घुसपैठ की अधिकतर कोशिशें नाकाम कर दीं लेकिन करीब छह जगह आतंकी घुसपैठ करने में सफल भी रहे हैं। यही नहीं, सुरक्षा बलों को खुफिया एजेंसियों से ये अलर्ट भी मिला है कि आतंकवादी संगठन आईएस केपी के प्रशिक्षित आतंकवादी भारत में धमाके कर सकते हैं।

सूत्रों के मुताबिक अफगान पाकिस्तान बॉर्डर स्पिन बोल्डक के नजदीक मौजूद आतंकी संगठन भारत स्थित आतंकियों से संपर्क साधने में जुटे हैं। इसमें वे सोशल मीडिया का सहारा लेकर उन्हें भड़का रहे हैं।

भारत में मौजूद आतंकियों को आईईडी बनाने और छोटे हथियार खरीदने के लिए फंड पहुंचाने का आश्वासन दिया जा रहा है। खुफिया रिपोर्ट के मुताबिक आईएस KP के निशाने पर राइट विंग के नेता, मंदिर, भीड़भाड़ वाली जगह और विदेशी नागरिक हैं।

एक अधिकारी ने नाम सार्वजनिक नही करने की शर्त पर बताया कि पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी हर एक एंगल से तालिबान की ताकत को कश्मीर के लिए भुनाना चाहती है। सूत्रों की मानें तो हाल ही में कुछ वीडियो कश्मीर में इंटरसेप्ट भी किए गए हैं जिनसे ये पता चला है कि आईएसआई की सोशल मीडिया विंग कश्मीर में अफगानिस्तान के वीडियो दिखाकर लोगों को भड़काने की साजिश रच रही है। 

हालांकि, कश्मीर के युवाओं पर इस तरह के वीडियो का कोई प्रभाव नहीं पड़ रहा है फिर भी पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है।


न्यूज9इंडिया डेस्क

न्यूज9इंडिया डेस्क