अलीगढ़: सलाखों के पीछे कैदी सीख रहे जिंदगी जीने का हुनर, वी एस एनर्जी कर रहा सहयोग

जिला कारागार अलीगढ़ के माध्यम से कारागार में निरुद्ध बंदियों को सुधार एवं पुनर्वास के दृष्टिगत कारागार से रिहा होने के पश्चात गरिमापूर्ण, स्वावलंबी और समाजोपयोगी जीवन व्यतीत करने हेतु स्वयं सेवी संस्था वी. एस. एनर्जी के सहयोग से बिजली की झालर, एलईडी बल्ब और नाइट लैंप आदि बिजली के सजावटी उपकरण जेल में ही बनाना सिखाया जाएगा।

अलीगढ़: जेल... एक ऐसी जगह जहां जाने के बाद इंसान पर एक कलंक सा लग जाता है। लेकिन कहा जाता है ना कि हर जगह सिर्फ सही अथवा सिर्फ गलत लोग ही नहीं रहते। कुछ इसी की तरह एक जगह है जेल। सलाखों के पीछे एक अलग ही दुनिया बसती है। कोई यहां रहकर अपराध के अंधकार में जाने की सोचता है तो कोई यहां रहकर अपने आने वाले भविष्य को सुनहरा बनाने की सोचता है।

जिला कारागार अलीगढ़ में बंद जो कैदी अपने भविष्य को सुनहरा बनाने की सोच रखते हैं ऐसे कैदियों की मदद खुद जेल प्रशासन ही कर रहा है। तमाम तरीके से कैदियों की जिंदगी बनाने का प्रयास जेल प्रशासन करता रहता है। इसी कड़ी में जिला कारागार अलीगढ़ के माध्यम से कारागार में निरुद्ध बंदियों को सुधार एवं पुनर्वास के दृष्टिगत कारागार से रिहा होने के पश्चात गरिमापूर्ण,  स्वावलंबी और समाजोपयोगी जीवन व्यतीत करने हेतु स्वयं सेवी संस्था  वी. एस. एनर्जी के सहयोग से बिजली की झालर, एलईडी बल्ब और नाइट लैंप आदि बिजली के सजावटी उपकरण जेल में ही बनाना सिखाया जाएगा।


इस बंदी सुधार सम्बन्धी महत्वपूर्ण योजना की शुरुआत वरिष्ठ जेल अधीक्षक विपिन कुमार मिश्र द्वारा कारागार में नव स्थापित कौशल विकास केन्द्र में किया गया। इस अवसर पर प्रशिक्षु बंदियों को सम्बोधित करते हुए वरिष्ठ अधीक्षक विपिन कुमार मिश्र ने कहा कि उनका प्रयास है कि कारागार में निरुद्ध होने वाले बंदियों को इस तरह से प्रशिक्षित किया जाए कि वह कारागार से मुक्त होने पर समाज के साथ कदम-से-कदम मिलाते हुए एक गरिमापूर्ण, स्वावलंबी और गैर आपराधिक जीवन व्यतीत कर सके।

उन्होंने कहा कि कारागार में रहते हुए बंदियों को विभिन्न रोजगारोन्मुखी व्यवसायिक प्रशिक्षण का अवसर प्रदान करने का मूल उद्देश्य है कि पैसे/रोजगार की कमी की वजह से फिर से कोई व्यक्ति आपराधिक गतिविधियों में पुनः संलिप्त न हो, अपितु स्वयं लोगों को रोजगार दे।

कार्यक्रम के उद्घाटन में वरिष्ठ जेल अधीक्षक विपिन कुमार मिश्रा साथ-साथ वी. एस. एनर्जी संस्था के विशेष कार्याधिकारी विवेक, जिला कारागार अलीगढ़ के कारापाल पी.के. सिंह, जेल के वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी डा. शाहरुख रिज़वी डिप्टी जेलर श्री सुरेश कुमार और अन्य कर्मचारीगण उपस्थित रहे।


न्यूज9इंडिया डेस्क

न्यूज9इंडिया डेस्क