भारतीय देशी कोरोना कोवैक्सीन को इसी सप्ताह WHO से मंजूरी मिलने की संभावना

इसी सप्ताह डब्ल्यूएचओ की ओर से हैदराबाद स्थित वैक्सीन निर्माता कंपनी भारत बायोटेक की कोवैक्सीन को मंजूरी मिल सकती है।

नई दिल्ली: भारत की  देसी वैक्सीन कोवैक्सीन को जल्द ही विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की मंजूरी मिल सकती है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, इसी सप्ताह डब्ल्यूएचओ की ओर से हैदराबाद स्थित वैक्सीन निर्माता कंपनी भारत बायोटेक की कोवैक्सीन को मंजूरी मिल सकती है।

कोवैक्सीन पूरी तरह से स्वदेशी वैक्सीन है, फिलहाल भारत सरकार की ओर से भी इस वैक्सीन की इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी चुकी है और आम जनता के लिए यह उपलब्ध भी हो चुकी है। दरअसल, कोवैक्सिन को आईसीएमआर और भारत बायोटेक ने मिलकर विकसित किया है। अब तक इस वैक्सीन को अब विश्व स्वास्थ्य संगठन की इमरजेंसी यूज की लिस्ट में शामिल नहीं किया गया है, जिसकी वजह से कई देशों ने कोवैक्सीन लगवाने वाले लोगों के ट्रेवल को मंजूरी नहीं दी है।

बता दें कि दरअसल, डब्ल्यूएचओ की ओर से मंजूरी में देरी होने की वजह से भारत बायोटेक को कुछ विदेशी देशों में कोवैक्सिन को मंजूरी मिलने में बाधाओं का सामना करना पड़ रहा है। डब्ल्यूएचओ की ओर से इस वैक्सीन को मंजूरी मिलने का मतलब है कि कोवैक्सीन का दायरा दुनियाभर में बढ़ जाएगा। गौरतलब है कि पहले जून के महीने में डब्ल्यूएचओ ने भारत बायोटेक की ईओआई यानी एक्सप्रेशन ऑफ इंटरेस्ट को स्वीकार किया था।



न्यूज9इंडिया डेस्क

न्यूज9इंडिया डेस्क